मुझे छपरा के बारे में कुछ कहना है…

चौपाल के पाठक चौपाल के लेखक के रूप में भी योगदान कर सकते हैं ।
यंहा आप देवनागरी लिपि का प्रयोग करते हुए हिंदी, भोजपुरी, मैथिली या अन्य कोई भी बिहारी भाषा में अपने विचार, लेख, सुझाव या टिप्पणी लिख सकते हैं|
आप अपने विचारों से चौपाल को और भी समृद्ध बना सकते हैं ।  अगर आप कुछ लिखना चाहते हैं, तो आप तीन विकल्पों को चुन सकते हैं :
1. हिंदी में देवनागरी लिपि में ही हिन्दी ब्लॉग (Chaupal) के लिए लेख लिख सकते हैं ।
2. हमारे अंग्रेजी ब्लॉग के लिए अंग्रेजी में लेख लिखें ।
3. छपरा से संबंधित जानकारी के रूप में हमारे मुख्य साइट के लिए लिखें ।
इस के अलावा आप अपने लेख हमें मेल (ईमेल) कर सकते हैं, जिसे हम हमारी साइट पर उपयुक्त स्थान पर प्रकाशित कर सकते हैं ।
आपके सभी योगदान (लेख, कहानियां, कवितायेँ , समाचार इत्यादि ) आपके नाम के साथ प्रकाशित किया जाएगा । इच्छुक लेखक हमसे कभी भी संपर्क कर इस सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी प्राप्त कर सकते हैं ।
हमसे संपर्क करने हेतु यंहा क्लिक करें।
धन्यवाद,
आपका अपना
बिहारी
You can leave a response,or trackback from your own site.

72 Responses to “मुझे छपरा के बारे में कुछ कहना है…”

  1. Rajiv कहते हैं:

    मुझे यह शहर बहुत याद आता है.

  2. JITENDRA KUMAR कहते हैं:

    आई लव MY छपरा

  3. brajesh कहते हैं:

    हमारा छपरा संस्कारो वाला है

  4. Ashutosh Kumar Singh कहते हैं:

    छपरा से बहुत उम्मीदे जुडी हुई है, आज भी ये शहर मै हमेशा मिस करता हु, पता नहीं अब कब ये मौका आयेगा फिर भी ये शहर हमेशा याद आयेगा.

  5. utam kumar कहते हैं:

    हमारा छपरा
    आई लव MY छपरा

  6. Shobhit कहते हैं:

    छपरा एक बहुत अच्छा शहर है. यही से हमारी बचपन की यादें जुडी हुई है. आज भी जब छपरा जाता हूँ तो बहुत अच्छा लगता है.

  7. sonu कहते हैं:

    to डीएम ,
    छपरा मे सब से जयादा प्रोबलेंम है तो वो ट्राफिक का अगर ट्राफिक सुधर जाय तो कुछ राहत होगा

  8. NIRAJ Kr कहते हैं:

    बेस्ट जिला हँ हमारा बहुत याद ह तेरा जय ho छपरा इ लव माय जिला

  9. sanjay mishra कहते हैं:

    इ लव तो लाइव इन चपर .

  10. samitesh कहते हैं:

    I LOVE MY CHAHPR CITY,
    MUJHE CHAPRA KI BAHUT YAD AATI HAI,
    AAJ ISKI BAHUT DEVLOPMENT HO RAHI HAI,BAS JARUT HAI ISME THODI SI CHANGING LANE KI

  11. Rajiv kuamr Rajan (santu) कहते हैं:

    हमारा बहुत अछा है याह्ना पैर साडी चीज की सुबिधा है . mujhe ये कहते गर्वे है की हम भी छपरा से बेलोंग करते है .वैसे मेरा पैत्रिक घर गनौली मशरख में है .mere तरफ से सभी छपरा wasiyo को नमश्कार यंहा से डॉ वीरेंदर नारायण सिंह जो की जय विश्व बिदल्या में प्रख्यात हिंदी के प्रोफेसर है वो इन्तेर्नतिओनल पैर जा रहे है प्रतिनिधातावा करने के लिए जा रहें है.

  12. Chandan Kumar कहते हैं:

    मैं चन्दन कुमार, अपने छपरा शहर को बहुत याद करता हू. वह की सड़कें चाहे जैसी भी थी मेरे लिए वो सबसे अच्छी थी. आज मैं दिल्ली में भारत सरकार की नौकरी कर रहा हू. फिर भी मेरा मन यहाँ नहीं लग रहा है. मुझे अपने छपरा की बहुत याद आती है. कभी-कभी तो मन करता है की नौकरी छोड़ कर के चला जाऊ. लेकिन माँ-पापा की बहुत आशाएं हैं मुझसे इसलिए किसी भी तरह से मन लगाने की कोशिस कर रहा हू. भगवान् ने चाहा तो मैं जल्द ही छपरा आऊंगा. I Miss My Chhapra so much .

  13. SHALIKRAM BHAKTA कहते हैं:

    हेल्लो सर नमस्ते
    राम्जय्पल कॉलेज छपरा में काशी बाज़ार से किधर है किर्पया मुघे जल्दी बताये मेरा पेपर होने वाला है

  14. SHIVJI PANDEY कहते हैं:

    मै शिवजी पाण्डेय (छपरा जिला , बनियापुर अंचल ,ग्राम लौवां हाता) के रहने वाला हु लेकिन करीब ४३ साल से रोजी रोटी के लिए परदेश में आया था तब से आज तक परदेश और बिदेश में ही घूम रहा हु . लेकिन आत्मा हमेशा अपनी जन्म भूमि पर ही एकाग्रित रहती है .यह मौका कभी बिच बिच में मिल जाता है की धरती को नतमस्तक कर सकू .छठी मॉं की दया ही है की उस मोके पर कभी कभी गाव का दर्शन हो जाता है . शायद अब बुढ़ापा में ही यह नसीब में हो.

    तेरा ही औलाद हु
    पेट के लिए भटक रहा हु
    तेरे ही अशिर्बाद से
    जी रहा स्वाभिमान से
    स्वाभिमान ही एक मंत्र है
    जो पाया तेरे पास से
    दिल में कसक है
    तेरे पास आने का
    मन नहीं चाहता आना
    इस दौलत के बाज़ार से……………………

    जय मातृभूमि छपरा

  15. Vivek Sharma कहते हैं:

    छपरा की हवा पानी तथा मिटटी में जो अपनापन है वो मुझे कही महसूस नहीं होती है. नौकरी की मजबूरी है वरना मै इससे दूर कभी न जाता. मै वापस आऊंगा जरुर एक दिन.

  16. Vivek Sharma "Bikaner" कहते हैं:

    छपरा की हवा, पानी तथा मिटटी में जो प्यार है, अपनापन है वो मुझे कही महसूस नहीं होती है. नौकरी की मजबूरी है वरना मै इससे दूर कभी न जाता. मै वापस आऊंगा जरुर एक दिन.

  17. shailesh chaurasia कहते हैं:

    love my native land…i daily. think how i give somthing. for its development….

  18. subash singh कहते हैं:

    मेरे तरफ से सभी छपरा के लोगो को नवरात्री की शुभकामना

  19. anoop narayan singh कहते हैं:

    सभी मित्रो को सदर नमश कर आप लोगन कई ९ नवम्बर को छपरा कई एकता भवन मई दोपहर १ बजाई साईं निमंत्रण बा सरन गौरव सम्मान समारोह मई \इ प्रयाश बा अपना जिला कई सपूत लोग कई ईगो मंच पर एकता कराइ कई\इ करिक्रम कई माध्यम साईं हमनी अपना जिला कई विकाश मई सहभागी बनल चाहत बनी जा \हम्मर घर मशरख कई बरका अर्ना गव मई बा हम पत्रकारिता साईं १२ बारिश साईं जुरल बनी -रउरा लोग हम्मर साईं ९३८६८०४०६६ पर संपर्क भी कर सकत बनी

  20. anoop narayan singh कहते हैं:

    जब सारण गौरव सम्मान समारोह की पहली बार चर्चा मैने कुछ परबुध मित्रो से किया तो किसी ने भी उससे गंभीरता से नही लिया\कुछ लोगो ने आर्थिक मदद का दंभ जरुर भरा \लेकिन जब करिक्रम की बिधिबत सुरुआत हुई तो सबो ने किनारा कर लिया \चंद साहसी साथी आगे आये और हम अपने मंजिल की तरफ बढ़ चले \यह पहला साल है एक आयोजक की तौर पर बहुत सारी कमिया हो सकती है पर जिस उदेश्याई को लेकर हम चले है उससे नही डिगने वाले \आप सब गुरुजनों\मित्रो का साथ और उत्सह बर्धन है \९ को छपरा मई अगर हम जीते तो पुरी सारण परमंडल की जित होगी हारे तो भी होसला कम नही होगा \कुछ लोगो का नाम लिस्ट मे छुट गया हो यह गुस्थाकी अनजाने मे जरुर हमसे हुई हो पर वो भी हमरे लिये उतने ही सम्मानित है जितने की जो इस साल सामानित हो रहे है\मै हाथ जोर कर आप सबो से नेवेदन कर रहा हु की कारिक्रम की सफलता मे अपना सार्थक योगदान दी \हमे धन नही आप सबो का साथ चाहिये

  21. anoop narayan singh कहते हैं:

    9 नवम्बर2012 को छपरा के एकता भवन मे दोपहर १ बजे से सारण गौरव सम्मान समारोह के आयोजन सारण हेल्प लाइन और गरिमा मीडिया के द्वारा संजुक्त रूप से काइल गइल बा रुआ लोग से आग्रह बा की उ करिक्रम मे भारी तादाद मे आपन उपस्थिति दर्ज करा के अपना जिला के गौरव बढैजा /रउरा लोगन के इ करिक्रम मे स्वागत बा

  22. anoop कहते हैं:

    सारण गौरव संमान की अवधारणा पिछले कई वर्सो से दिल मे कचोट रही थी \लगता था की किसी दिन हम लोग भी छपरा मे सारण महोत्सव का आयोजन करे\रोजी रोजगार की कमी नै छपरा से पटना दिल्ही मुंबई तक का सफ़र करवाया हम जिस प्रोफेसन मे है वह किसी भी वक़्त चुटी नही मिलती अख़बार और चैनलो का बन्नार बदल जाता है पर हम हमेशा खबरों कई पीछे भागती रहती है\इस भागम भाग मे हम खुद को भी भूल जताई है\खैर बात सारण गौरव सम्मान की इस की प्रेरणा मिली अपने अस पास घटित होने वाली कुछ घटनाओ से ही मीला\बारे भी अश्वनी जी से मई २००५ मई ज़ुरा वो एक बिहारी अख़बार निकालने की योजना बना रही थाई\एक छोटी सी टीम बनी और बीहारी खबर नाम से एक रस्त्रियाई साप्ताहिक का पर्काशन पररम्भ हुआ\इस बाच इटव से भी मेरा जुरव रहा नेशन अखबारों मे भी अनवरत लेखन का कम चलता रहा \छपरा \बिहार फिर भी दिल मे था\एक प्रेरणा मिलती रही अपने दादा जी से जिन्हों नै १९४५ मई खुद का माकन नहीं बनवा कर गाव मे अपनी जमीं पर एक स्कूल बनवा दीया\जमींदारी थी उनके पास\पुरी इलाके मे कुआ खुदवाया\अपने लिये कुछ नहीं किया\मे काफी कम उम्र साईं ही अखबारों मै पार्ट टाइम कई रूप मे खबर लिखता था \१९९७ मे आजज अखबार से सुरुआत हुई\उस वक़्त इंटर का स्टूडेंट था\यात्रा चलती रही\फीर मीला कुछ अची और सचे लोगो का साथ और मार्गदर्शन\भोजपुरी फिल्मो से मे ज़ुरा भी तो प्रोडूसर साइड से अनुभव काफी दुखद रहा \खैर सरन गौरव सम्मान की सोअच एक एक सफलीभूत हुई पिछले महीने जब चंद इमानदार साथी मिली\उन्होने सपनो को उरान दी पंखो को होसला दिया\पत्रकारिता मै अरुण अशेष \कमलेशजी\राकेश परवर\नवेंदु जी जैसी गुरु मिली तो जीवन कई सफ़र मई अश्वनी कुमार सिंह जैसी बारे ीभाई भी\ अभई सिंह\चुनु पाण्डेय\निखिल जी जैसी आचे लोग भी\डॉ उमकंतानंद जी महाराज जैसी अध्यात्मिक गुरु भी आब आन्दोलन की तयारी पूर्ण हो चुकी है\छपरा मे सिर्फ अवार्ड का करिक्रम ही नही बल्कि भोजपुरी को बचाने का एक आन्दोलन भी सुरु हो रहा है\जिसका मूल है आम आदमी\आप और हम

  23. shikhar raj कहते हैं:

    शिखर राज
    हमारा छपरा हिस्ट्री का सबसे लीजेंड टाउन है ,i मिस छपरा बिहार .

  24. anoop narayan singh कहते हैं:

    एकता भवन में सारण गौरव सम्मान समारोह नौ को
    Oct 28, 07:29 pm
    बताएं

    छपरा, कासं.: अपनी प्रतिभा का परिचय पूरी दुनिया में फैला रहे सारण के सपूतों को नौ नवंबर को छपरा के एकता भवन में समारोह आयोजित कर सम्मानित किया जाएगा। इस आशय की जानकारी आयोजन समिति के अध्यक्ष अभय कुमार सिंह ने रविवार को प्रेस वार्ता के दौरान दी। उन्होंने बताया कि इस समारोह में वरिष्ठ साहित्यकार मैनेजर पांडेय, पत्रकार राणा यशवंत, अंडर-19 विश्व कप विजेता क्रिकेट टीम के सदस्य रविकांत सिंह, हाकी के पूर्व कोच हरेन्द्र सिंह, व्यवसायी अश्रि्वनी कुमार सिंह, चुन्नू बाबू सिंगापुरी, चीन में रहने वाले केएस टेंग, जगदम कालेज के प्राचार्य डा. प्रमेन्द्र रंजन सिंह, सत्येन्द्र सिंह, डा. विनय कुमार सिंह, डा. सुजाता, कुबैत में रहने वाली साधना सिंह, मणि प्रसाद सिंह, गुड्डू बाबा, निशिकांत सिंह, सुदीप पांडेय, संतोष कुमार, डा. रविकांत दुबे, नीरज कुमार, धनवंत सिंह राठौर, जीवन कुमार व सुग्रीव कुमार समेत 21 विभूतियों को सम्मानित किया जाएगा। इन विभूतियों को जूनागढ़ अखाड़ा के महामंडलेश्वर डा. उमाकांतानंद सरस्वती, सांसद उमाशंकर सिंह, सिवान के सांसद ओमप्रकाश यादव, मंत्री जनार्दन सिंह सिग्रीवाल, विधायक कृष्ण कुमार सिंह उर्फ मंटू, विधायक विनय सिंह, दिलमनी देवी व अविनाश कुमार सिंह सम्मानित करेंगे।

  25. anoop narayan singh कहते हैं:

    सारण गौरव सम्मान से सम्मानित होने वाले बिभूति
    १.राणा यसवंत २. हरेन्द्र सिंह ३.मैनेजर पाण्डेय ४.रवि कान्त सिंह ५. अश्वनी कुमार सिंह ६.चुनुबबु सिंगा पूरी ७.साधना सिंह ८. निशिकंता जी ९. क.स. तंग १०.परमेन्द्र रंजन सिंह ११.सतेन्द्र सिंह १२.मणि परसाद सिंह १३.जीवन कुमार १४. संतोष कुमार १५.सुग्रीव सिंह १६. सहीद समस १७.क.क यादव १८.डॉ.बिनाई बिहारी उर्फ़ बिहारी भिया १९.नीरज कुमार २०.राजेंद्र दुबे 21. डॉ.सुजाता सम्बरुई
    इस अवसर पर १० लोगो को बिशेष सम्मान भी परदान किया जयिगा
    १. डॉ. रविकांत दुबे २. भी जी भोजपुरिया ३. रोहित सिंह मटरू ४. खुसबू-परवीन उत्तम ५. सतेन्द्र कुमार ६. मनोज – सैलेश राणा ७. धन्वंत सिंह राठौर ८. हीरो सुदीप पाण्डेय ९.उदय कुमार \छपरा १०.सतेन्द्र दूरदर्शी मित्रो ३० सारन कई पहरुओ को भी सम्मानित करना है जो अपनी कलम की धार और रफ़्तार से जिले का मान बढा रहे है

  26. anoop narayan singh कहते हैं:

    हम अपने पैरो पर खरे है हमे किसी की बैशाखियो की जरुरत नही \तमाम अवरोधों कई बावजूद हम अपने दम पर सारण गौरव सम्मान का सफल आयोजन कर के दिखायेगे हमे किसी के दान या चंदे की जरुरत नही \अगर कोई देना ही चाहता है तो इस अभियान का हिशा बने \करीकरम से सम्बंधित किशी भी जानकारी के लिये आप हमसे ९३८६८०४०६६ पर संपर्क कर सकता है

  27. anoop कहते हैं:

    सारण गौरव सम्मान समारोह ९ नवम्बर २०१२ \शुक्रवार की दोपहर १ बजाई से प्रारंभ होगा \
    इस अवसर पार बतौर मुख्या अतीथी जूनागढ़ अखारा के महामंडलेश्वर डॉ.स्वामी उमकंतानंद सरस्वती जी महाराज\महाराजगंज के संसद ी उमाशंकर सिंह\बिहार सर्कार मे
    सरम मंत्री जनार्दन सिंह सिग्रीवाल और कई सम्मानित लोग उपस्थित रहेंगे \इस अवसर पर सारण गौरव गाथा की प्रस्तुति भी की जाईगी \चुनुबबू सिंगापुरी अकर्सन के मुख्या केंद्र होंगे \

  28. anoop narayan singh कहते हैं:

    राउया लोग के ९ नवम्बर कई छपरा के एकता भवन मे दोपहर १ बजे से आयोजित सारण गौरव सम्मान समारोह मे स्वागत बा \करिक्रम मे परवेश निसुलुक बा —-अनूप नारायण सिंह 09386804066

  29. chintu kumar कहते हैं:

    चिंटू कुमार क मुताबिक छपरा बहोत अच्छा सहर है

  30. chintu kumar कहते हैं:

    हम दिल्ल

  31. Aftab Alam कहते हैं:

    मै पुरे बिहार वासी को छठ पूजा की हार्दिक शुभकामनाये देता हु . हमारा छपरा शहर अत्ति उत्तम शहर है. शांति का प्रतिक रहा है i मै खैरह थाना के तुजारपुर पंचायत के भीखमपुर / पतेढ़ा गाँव का निवासी हूँ . हमारा बाजार हरी सब्जिओ के लिए मशहुर है, कुछ दुकाने है जिस से यहाँ की गाँव वासियों की जरुरत की सामान मिल जाता है ,नजदीकी शहर छपरा है , जो गाँव से 12km की दुरी पे है. , एक दुखद समाचार ये है की मेरे गाँव की एक दुकानदार भाई को हत्या 15nov की शाम अज्ञात लोगो ने कर दी, गाँव में अशांति का माहौल है .

    मै अपने प्रसाशन से संतुस्ट नहीं हूँ . मुझे ऐसा लगता है प्रसाशन अपना काम ईमानदारी से नहीं करता .

    I लव U बिहार. I लव U इंडिया..

  32. Ganesh Shankar Jyoti कहते हैं:

    मै बशाढ़ी, गुरुकुल मेंहिया, छपरा का निवाशी हूँ और अपने छपरा को बहुत याद करता हूँ.

  33. OP कहते हैं:

    Chapra is not a develope district & there is no any big industries in chapra. Peoples are not educated & poverty is go higher.

  34. DEEPAK TIWARY कहते हैं:

    मुझे छपरा सहर से बहुत प्यार है और मैं इस टाउन को दिल से पसंद करता हु क्यों की ये मेरी कर्मस्थली है

  35. anoop narayan singh कहते हैं:

    बिहारी खबर के संपादक अश्वनी कुमार सिंह के पिता श्री हरदयाल सिंह का २८ देसमबर को पटना मे निधन हो गया \उनकी अंतिम यात्रा मे मुझे भी सामिल होने का सौभाग्य मिला \भगवन उनकी आत्मा को सन्ति परदान करे

  36. SHALIKRAM BHAKTA कहते हैं:

    सर छपरा के याद बहुत आता है पर जॉब्स डेल्ही में ही है लेकिन जब घर अत हु तो छपरा ही उतरता हु ठीक लगता हा पर नसीब में अब नहीं है / सर पार्ट-१ का रिजल्ट कब आयेगा २०१२ वाला
    थान्किंग यू एंड विथ काइंड रेगार्ड्स
    शालिकराम भक्त
    डेल्ही

  37. amit kuar कहते हैं:

    हामार भाई लॊग नमस्कार बा यी भाई के जे इतना बढया विचार देले बा
    जय हो छपरा
    जय बिहार

  38. amit kuar कहते हैं:

    Kitna Dur Nikal Gye Riste Nibhate Nibate,
    Khud Ko Kho Diya Humne Apno Ko Pate Pate,
    Log Kahte Hai Dard Hai Mere Dil Me,
    Aur Hum Thak Gye Muskurate Muskurate..

  39. amit kuar कहते हैं:

    Bahut Kuch Hai Dil Ki Gehrai Mein
    Tadaph Jata Hai Dil Raat Ki Tanhai Mein
    Yun Ton Kehne Ko Dost Bahut Hain
    Par Fark Hota Hai Saya Aur Parchhai Mein

  40. amit kuar कहते हैं:

    Agar Bhigne Ka Itna Hi Shaukh Hai Baarish Me,
    To Dekho Meri Aankho Me,
    Baarish To Har Ek Ke Liye Barasti Hai,
    Lekin Ye Aankhe Sirf Tumhare Liye Barasti Hai..

    09911091820

  41. amit kuar कहते हैं:

    Zindagi Se Poocho Ye kya Chahti Hai,
    Bus Ek usi ki Wafa Chahti hai,
    Kitni Masoom or Nadan hai Zindagi,
    Khud Bewafa hai or Wafa Chahati है

    9911091820

  42. Anurag kumar कहते हैं:

    छपरा शहर हमारा सबसे प्यारा जो की है जिला हमारा बेला दरियापुर है गाँव हमारा जहा है चाका कंपनी रलवे जाने संशार सारा ये है छपरा हमारा

  43. raushan kumar chaudhary कहते हैं:

    {basahi lahladpur} chapra hamare bihar ke ek mahtwpurn jila hai.

  44. raushan kumar chaudhary कहते हैं:

    chapra ka kahanam hai bhojpuri me…..
    Paisha paisha ke hisab ham deb,
    sawal kari jabab ham deb,
    Kat bowab t darad hoibe kari,
    Ful bheji gulab ham deb…..

  45. Amritesh कहते हैं:

    मुझे बी.कॉम फर्स्ट साल का रिजल्ट देखना था. लेकिन, राजेंद्र collage वाले इतने हरामी है की कभी भी रिजल्ट यूनिवर्सिटी के वेबसाइट पे पब्लिश न करके syber कैफ़े वालों को बेच देते है. जिससे कोई भी स्टूडेंट अपना रिजल्ट देखने के लिए syber कैफ़े वाले को मज़बूरी में पैसा देता है. साले सब के सब घुसखोर और चोर है छपरा में. इसीलिए सभी बिहारी कहते है.

  46. manoj singh कहते हैं:

    भाई छपरा के नमस्कार बा इ गौरसली धरती अनेक महापुरुष के जन्मस्थली है इ धरती पर भगवन के ६ बार वावे के परल ऐसे एकर नाम छपरा परल ,हमू वेही धरती पर जनम लेली जवान हमर भाग बा
    गाँव साध पुर बलि थाना कोपा पास में कुभ ऋषि के आश्रम कुमना में बा जन्हा शंकर जी सत्संग सुने आवत रलेन सतयुग में जय छपरा

  47. Mohammad Asif कहते हैं:

    Dear Friends,
    मेरा नाम मोहम्मद आसिफ है. मै छपरा का निवासी हु मेरा शहर बहुत पयारा है. और बहुत शांति वाला एक छोटा सा शहर है भगवन न करे इसे किसी की नज़र लगे. यहाँ के लोगो में प्रेम और सौहार्द बहुत अटूट है. और मै हमेसा अपने खोदा से यही दुआ करता हूँ की बस ये जैसा है वैसा hi रहे. धैंवाद

  48. RITESH कहते हैं:

    हम चाहते है की आप लोग मुझे कुछ आईडिया और विचार दे ताकि छपरा में कुछ रोजकर के औसर तैयार किए जा सके. मेरे ये सपना है सारण के लोगो को रोजगार की मज़बूरी में यहाँ से बहार नहीं जाना पड़े. एक छोटी सी कोशिस शायद कुछ सहायक हो.मेरे मेल yourriteshsingh@gmail.com है. सभी पारकर के विचार आमंत्रित है.

  49. ANIL KUMAR SAH कहते हैं:

    मुझे मेरा गाँव बनवारी अमनौर(एकमा) बोहत ही अच्छा लगता हे मेने अपने गाँव में बोहत कम समय बिताया हे मगे जितना भी बिताया हे हे वो पल बोहत सुखद हे , और शाम का वक्त तो बोहत ही अच्छा लगता हे बाजार में घूमना और खाना पीना सब अच्छा लगता हे ….

Leave a Reply

Type Comments in Hindi (Devanagari Script).
Hint: Press Ctrl+g to toggle between English and Hindi OR just Click on the letter.